कामकाज

आदरणीय भक्तभाविक,

वंदनीय श्री सद्‌गुरुनाथ दादा कृपास्थापित व श्री सद्‌गुरुज एज्युकेशनल ॲन्ड वेलफेअर ट्रस्ट संचालित ‘साईकृपा’ इस दादर-मुबंई कार्यकेंद्र पर आपका स्वागत। आप किसी भी समस्या अथवा प्रश्नों के लिए आए होगे, तो आपकी समस्या को दूर करने या आपके प्रश्नों के समाधानपूर्वक उत्तर दिलाने का हमारा प्रयत्न होगा। कोई भी समस्या  प्रश्नो के निवारण पध्दती को ‘कामकाज’ कहते है । कार्यकेंद्रपर कार्यकरने वाले ‘सेवक’ अपने सेवा का मोबदला नहीं लेते। उनके मार्गदर्शन से आपको कामकाज का लाभ प्राप्त करना है। आपको इस कार्य का लाभ सुखकारक हो इस दृष्टीसे नीचे जो सूचना दि गई है, उसका कृपया अभ्यास करे।

१. उत्सव अथवा विशेष दिन को छोंडकर कार्यकेंद्र पर हरेक (प्रत्येक) सप्ताह मे गुरुवार, शनिवार व रविवार को काजकाज होता है। (फिलहाल सिर्फ गुरुवार और रविवार को कामकाज होगा)


२. किसी भी महिने में कामकाज का नंबर तथा नाम लेना, उस महिने के पहिले महिने के१६ तारीख से शुरु होता है।


३. जीस व्यक्ती की समस्या होगी / प्रश्न होगा उसके ही नाम का नंबर ले। एक ही कुटुंब के अनेक व्यक्तीयों की यदि समस्या हो /प्रश्न हो तो केवल कुटुंबप्रमुख के नाम से नंबर ले। परंतु कितने भी प्रश्न पुछे जा सकते है।


४. उसके उपरांत जानकारी देने वाला फॉर्म भरे| प्रत्येक दिन केवल २० नाम स्विकारे जाएगे|


५. सर्व प्रथम अपनी सुविधा के अनुसार कामकाज का दिन निश्चित करे.

६. उसके बाद रु. ५०/- इतना योगदान (non- refundable) दि हुई सूचना के अनुसार भरे, (इस रकम से भक्तों को एक श्रीफल, दो पान (बिडा), एक अखंड सुपारी, रु. ११ दक्षिणा इतना परमपूज्य बाबाजी के चरणों में रखा जाऐगा) ये योगदान Google Pay/ Phone Pay /Paytm मार्फत भर सकते है। पैसे जमा होनेका दाखला आपको प्राप्त होगा।


७. कामकाज के दिन सुबह ७.४५ तक शुचिर्भूत होकर घर में योग्य जगह पर बैठे, जिससे कार्यकेंद्र जैसा कामकाज का लाभ आप ले सकते है।


८. सुबह ८.०० बजे आरती साधना को शुरुवात होगी उसका लाभ Zoom अथवा Youtube पर दि हुई सूचना के अनुसार ले।


९. सुबह ९.१५ बजे कामकाज कि शुरुवात होगी, आपके नंबर के अनुसार आपको केंद्र से फोन किया जाएगा, उस समय आप विडिओ कॉल या ऑडीयों कॉल पर से बोल सकते है। विडिओ कॉल होगा तो आपको मार्गदर्शन करने वाले सेवक दिखेगे। ऑडीयो कॉल होगा तो सिर्फ आवाज सुनाई देगी।


१०. कॉल लगने पर आपका बयान स्पष्ट और अपनें तकलिफ की / प्रश्नों के विषय में सर्वजानकारी देने वाला हो। आपके प्रश्नों की चर्चा कोई भी सेवकों में या दूसरे भक्तभाविकों में नहीं होगी इस बात के लिए निश्चित रहे ओर निसंकोच होके बोलो~


११. आपके प्रश्नों के अनुसार निराकरण बताया जाएगा, जिसके कारण प्रश्न निवारणार्थ कम-अधिक समय लग सकता है। आपको जो सेवा बताई गई हे, उस सेवा का मायना Whatsapp किया जायेगा।


१२. मार्गदर्शित निराकरण ये केवल क्षणिक समस्या प्रश्न निवारणार्थ के लिए सिर्फ नही, बल्कि पूरे परिवार के लिए आज और भविष्य के सुख, समाधान के के लिए दिये है


१३. आपको दि हुई सेवा मनोभाव से व एकाग्रता के साथ दोपहर बाराबजे के पहले करे।


१४. साधारण पाच  ग्यारह संप्ताह की सेवा बताई जाती है, उसके बाद मार्गदर्शन के अनुसार फिर से नाम व नंबर लेकर कामकाज करना आवश्यक है।


१५. महिलाओं की महिने की समस्या (मासिक समस्या) अथवा अन्य किसी कारण से सूचित कि हुई सेवा कुछ दिन नहीं कर सके तो उतने दिन आगे बढाकर सेवा करे।


१६. कार्यकेंद्र से प्रक्षेपित होने वाली ‘आरती साधना’ व सभी उपक्रमों का लाभ आवश्य ले।

All Rights reserved © 2020 Dadar Karyakendra
X
X